कौन हैं वे 10 गेंदबाज, जिन्होनें बोल्ड आउट कर वनडे क्रिकेट में चटकाए सबसे अधिक विकेट

19475
IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India, No.1 Hindi Cricket News Channel

क्रिकेट एक बहुत ही रोमांचक खेल है जिसमें हमेशा कोई नया रिकॉर्ड बनता है और टूट जाता है वैसे तो ओडीआई क्रिकेट बैट्समैन के लिए माना जाता है लेकिन इस खेल का रोमांच ऐसा है कि कभी-कभी गेंदबाज भी इस खेल को अपने अनुरूप बना लेते हैं बल्लेबाजी में आए दिन कुछ नया रिकॉर्ड बनते रहते हैं लेकिन गेंदबाजी में भी कुछ कुछ ऐसा रिकॉर्ड बनते हैं जिस पर किसी का ध्यान ही नहीं जाता आज हम इस लेख में आपको बताएंगे दुनिया भर के कौन ऐसे 10 गेंदबाज है जिन्होंने वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट बोल्ड आउट करके लिए है

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

वसीम अकरम (Wasim Akram)- पाकिस्तान के पूर्व बतौर गेंदबाज खिलाड़ी वसीम अकरम जो किसी भी पहचान के मोहताज नहीं है उन्होंने वनडे क्रिकेट में सबसे पहले 500 विकेट लेने का रिकॉर्ड भी बनाया है अपने ओडीआई कैरियर में खेले गए कुल 356 मुकाबले मे 176 खिलाड़ियों को बोल्ड आउट करके अपना शिकार बनाया है जो कि उनके कुल शिकार का 35.05 प्रतिशत खिलाड़ियों को बोल्ड किया है! दक्षिण अफ्रीका में हुए ओडीआई विश्व कप 2003 के बाद अपने कैरियर से सन्यास ले लिए अपने पूरे कैरियर में वसीम अकरम ने कुल 502 विकेट हासिल की है जिस में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 15 रन देकर 5 विकेट हासिल करना था!

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India, No.1 Hindi Cricket News Channel

वकार यूनिस (Waqar Younis)- इस सूची में दूसरा खिलाड़ी भी पाकिस्तानी है वकार यूनुस ने अपने पूरे कैरियर में खेले गए कुल 262 मुकाबले में 151 खिलाड़ियों को बोल्ड आउट किया उन्होंने कुल 416 खिलाड़ियों की विकेट हासिल की जिस में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 36 रन देकर 7 विकेट हासिल करना था यूनिस ने कुल विकेटों का 36.29 प्रतिशत विकेट बोल्ड से हासिल किए वकार यूनुस जो 2003 विश्व कप में पाकिस्तानी टीम के कप्तान भी थे इन्होंने भी वसीम अकरम की तरह है इसके बाद संन्यास की घोषणा कर दी थी

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

मुथैया मुरलीधरन (Muthaiya Muralidharan)- स्पिन बॉलिंग का जादूगर मुथैया मुरलीधरन का भी नाम इस लिस्ट में शामिल है जिन्होंने वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने का कारनामा किया है यह श्रीलंकाई खिलाड़ी अपने वनडे कैरियर में कुल 350 मुकाबलों में 122 खिलाड़ियों को बोल्ड किया है यानी कि 22.84 फ़ीसदी खिलाड़ियों को सिर्फ बोल्ड से ही अपना शिकार बनाया है! मुथैया मुरलीधरन ने पूरे कैरियर में कुल 534 विकेट हासिल किए जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 30 रन देकर सात विकेट रहा मुरली ने 2011 वनडे विश्व कप के बाद क्रिकेट के तीनों प्रारूप से संयास ले लिए वनडे में 534 विकेट लेने के साथ-साथ मुरली ने टेस्ट क्रिकेट मे भी 800 विकेट हासिल करके सबसे ज्यादा विकेट लेने का कीर्तिमान स्थापित किया!

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

लसिथ मलिंगा (Lasith Malinga)- श्रीलंका का ही एक और गेंदबाज लसिथ मलिंगा इस लिस्ट में शामिल है जिन्हे यॉर्कर स्पेशलिस्ट भी कहा जाता है इस तेज गेंदबाज के आगे अच्छा-अच्छा बल्लेबाजों के पसीने छूट जाते थे इन्होंने अपने वनडे क्रिकेट में खेलें कुल 226 मुकाबलों में 104 खिलाड़ियों को बोल्ड किए हैं औसतन 30.76 प्रतिशत खिलाड़ी को बोल्ड करके पवेलियन का रास्ता दिखाए हैं! लसिथ मलिंगा 226 मुकाबलों में कुल 338 विकेट लिए जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 38 रन देकर छह विकेट रहा मलिंगा ने 2019 विश्वकप के बाद वनडे क्रिकेट से दूरी बना ली लेकिन अभी भी अपनी टीम के लिए T20 खेलते नजर आते हैं!

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

शाहिद अफरीदी (Shahid Afridi)- एक और पाकिस्तानी दिक्कत शाहिद अफरीदी भी इस लिस्ट में शामिल है जो अपनी टीम के लिए ऑलराउंडर की भूमिका निभाते थे अफरीदी ने अपने वनडे कैरियर में कुल 398 मुकाबलों में 395 विकेट हासिल किए जिसमें 104 विकेट बोल्ड करके हासिल किए जो कि औसतन 26.32 प्रतिशत है! अफरीदी ने 2015 विश्वकप के बाद सन्यास की घोषणा कर दी थी इसके साथ साथ हो 2011 और 2015 विश्व कप में पाकिस्तान टीम कैप्टन भी थे!

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

अनिल कुंबले (Anil Kumble)- जब बात सबसे ज्यादा बोल्ड करने की चल रही हो तो इसमें एक भी भारतीय खिलाड़ी ना हो ऐसा कैसे हो सकता भारत के सबसे सफल स्पिनर अनिल कुंबले भी इस लिस्ट में शामिल है जिन्होंने ओडीआई कैरियर में खेले गए कुल 271 मुकाबलों में 337 विकेट हासिल किए जिसमें 92 विकेट बोल्ड करके हासिल किया जोकि कुल विकेटों का औसतन 27.29 है जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 12 रन देकर 6 विकेट हासिल करना रहा! अनिल कुंबले 2007 विश्व कप के बाद टीम से सन्यास की घोषणा कर दी वनडे में 337 विकेटों के साथ-साथ टेस्ट में भी 619 विकेट अपने नाम किए!

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

चमिंडा वास (Chaminda Vaas)- इस सूची में एक और श्रीलंकाई तेज गेंदबाज चमिंडा वास का भी नाम शामिल है जो कि हमेशा से ही अपनी तेज आगबरपाती गेंदबाजी के लिए प्रसिद्ध रहे वास ने श्रीलंका के लिए खेले कुल 322 वनडे में 400 विकेट हासिल किए जिसमें 90 खिलाड़ियों को बोल्ड किए है कुल विकेटों में बोल्ड का औसतन 22.05 रहा वही चमिंडा वास ने 2008 में अपना आखिरी वनडे खेला था।

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India,

ब्रेट ली (Breet Lee)- बात अगर इंटरनेशनल गेंदबाजों की हो और उसमें ब्रेट ली का नाम ना हो ऐसा कैसे हो सकता है पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज ब्रेट ली भी इस लिस्ट में शामिल है उन्होंने वनडे क्रिकेट में खेले गए कुल 221 मुकाबलों में 380 विकेट हासिल की है जिसमें 89 विकेट बोल्ड करके प्राप्त किया जो कुल विकेटों का 23.42 प्रतिशत है ऑस्ट्रेलिया को कई यादगार मैच जिताने वाले ब्रेट ली का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 22 रन देकर 5 विकेट हासिल करना रहा।

सनथ जयसूर्या (Sanath Suraya)- यह देखकर हैरान होंगे कि एक सलामी बल्लेबाज का नाम इस लिस्ट में कैसे हैं तो आपको यह बताते चलें कि सनत जयसूर्या जितने विस्फोटक सलामी बल्लेबाज थे उतना ही अच्छे एक स्पिन गेंदबाज भी थे सनथ जयसूर्या के नाम वनडे में 445 मुकाबले खेलने का भी रिकॉर्ड है जिसमें उन्होंने 323 विकेट भी हासिल की है और 88 खिलाड़ियों को बोल्ड करके पवेलियन का रास्ता दिखाया सबसे किफायती गेंदबाजी में भी उनका नाम लिया जाता है साल 2011 में इंग्लैंड दौरा के बाद सनत जयसूर्या ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया

IPL, IPL 2021, IPL Match, Crictrack, Cricket, Hindi Cricket, Indian Team, India, No.1 Hindi Cricket News Channel

ग्लेन मैकग्राथ (Glenn McGrath)- इस सूची में एक और ऑस्ट्रेलियाई महान तेज गेंदबाज ग्लेन मैकग्राथ का भी नाम आता है जिन्होंने अपनी तेज गेंदबाजी का लोहा मनवाया मैकग्राथ ने अपने वनडे कैरियर में खेले गए कुल 250 मुकाबलों में 381 विकेट हासिल की है जिसमें 87 खिलाड़ियों को बोल्ड किए थे लिए गए कुल विकेटों में 22.83 प्रतिशत विकेट बोल्ड करके हासिल के थे जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 15 रन देकर 7 विकेट हासिल करना था। मैकग्राथ अपना नाम सबसे तेज गेंदबाजों में शुमार कर लिया था जो कि 2007 विश्व कप के बाद संन्यास की घोषणा कर दी थी खेले गए 2003 विश्वकप में सचिन का विकेट लेकर मैकग्राथ ने टीम इंडिया की उम्मीदों पर पानी फेर दिया था।