विराट कोहली और बाबर आजम के बीच 3 ऐसे अंतर जिसके चलते इन दोनों के बीच तुलना करना है बेकार

9845
रोहित शर्मा ने विराट कोहली को लेकर दिया बड़ा बयान- पूरी रिपोर्ट पीढ़ें Rohit given statement on kohli

मौजूदा समय में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एशियाई टीमों का दब’दबा काफी जगह बढ़ चुका है। सबसे पहली एशियाई टीम का नाम भारतीय टीम का है। वहीं दूसरी एशियाई टीम का नाम पाकिस्तानी टीम का है। यह दोनों टीम अपने विपक्षी टीमों पर मुकाबले की शुरुआत से ही हा’वी होकर मनोवै’ज्ञानिक तौर पर मुकाबला जीत रही है। इसका सबसे बड़ा कारण यही है, कि टीम में अच्छे खिलाड़ियों का होना। भारतीय टीम से लेकर पाकिस्तानी टीम के अच्छे बल्लेबाज और गेंदबाजों की भरमार पड़ी हुई है। ऐसे में दोनों टीमों को हरा’ना विपक्षी के लिए काफी मुश्किल काम लग रहा है।

No.1 Hindi Cricket News website- Crictrack.in- Daily Hindi Cricket, Hindi cricket news Crictrack, cricket news Hindi.

सचिन तेंदुलकर के संन्यास लेने के बाद भारतीय टीम के दूसरे सचिन तेंदुलकर विराट कोहली मौजूदा समय के वर्ल्ड क्रिकेट में सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक है। विराट कोहली के जैसा ही पाकिस्तानी टीम को भी एक धमाकेदार दाएं हाथ का बल्लेबाज मिला हुआ है, और उसका नाम बाबर आजम है। बाबर आजम और विराट कोहली की बल्लेबाजी शैली एकदम मिलती-जुलती है। कई दिग्गज क्रिकेट एक्सपर्ट्स यह कह चुके हैं, कि बाबर आजम आने वाले दिनों में विराट कोहली के जैसे ही बड़े खिलाड़ी बनेंगे। पिछले कुछ समय में बाबर आजम विराट कोहली के कई बड़े रिकॉर्ड तोड़ चुके हैं। मौजूदा समय में विराट कोहली को पछाड़कर बाबर आजम एकदिवसीय क्रिकेट के नंबर वन बल्लेबाज भी बन चुके हैं। कई दिग्गज क्रिकेट एक्सपर्ट तो यह भी कह चुके हैं, कि बाबर आजम पाकिस्तानी टीम के विराट कोहली है। बाबर आजम एकदम विराट कोहली के जैसा बल्लेबाजी करते हैं। आज इस खबर के माध्यम से हम आपको बाबर आजम और विराट कोहली के बीच के तीन बड़े अंतर के बारे में बात करेंगे जिससे बाबर आजम और विराट कोहली की तुलना नहीं होनी चाहिए।

No.1 Hindi Cricket News website- Crictrack.in- Daily Hindi Cricket, Hindi cricket news Crictrack, cricket news Hindi.

विराट कोहली का क्रिकेट पदार्पण 2008 बाबर आजम का क्रिकेट पदार्पण साल 2015- विराट कोहली के पास अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का लगभग 14 सालों का तजुर्बा है। वही पाकिस्तानी टीम के कप्तान बाबर आजम के पास मात्र 6 सालों का। इस मामले में विराट कोहली काम से तुलना करना क’तई सही नहीं है। विराट कोहली भारतीय टीम की तरफ से बल्लेबाजी करते हुए पिछले काफी लंबे समय से लगातार रन बनाते हुए सैकड़ों मुकाबले में जीत दिलाए है। सचिन तेंदुलकर के संन्यास लेने के बाद विराट कोहली ने उनकी जगह पर बल्लेबाजी करते हुए सचिन की कमी कभी भी खलने नहीं दिया है। विराट कोहली और बाबर आजम के कैरियर में 8 सालों का गैप है। तो इस हिसाब से विराट कोहली का बाबर आजम से कोई तुलना है, ही नहीं। Virat Kohli के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में लगातार रन बनाने के चलते हुए रन मशीन कोहली के नाम से जाना जाने लगा है। बाबर आजम अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन उन्हें कोहली के जैसा उन्हें कोई नाम नहीं मिला है।

No.1 Hindi Cricket News website- Crictrack.in- Daily Hindi Cricket, Hindi cricket news Crictrack, cricket news Hindi.

कप्तानी में बल्लेबाजी के दौरान विराट कोहली है बाबर आजम से काफी आगे- बात अगर दोनों खिलाड़ियों के कप्तानी की की जाए तो विराट कोहली काफी आक्रा’मक कप्तान है। वही बाबर आजम शां’त स्वभाव के खिलाड़ी हैं। विराट कोहली के पास कप्तानी का काफी लंबा तजुर्बा है। वे अपनी कप्तानी में भारतीय टीम के लिए तीन आईसीसी वर्ल्ड कप खेल चुके हैं। विराट कोहली का कप्तानी के दौरान रिकॉर्ड काफी शानदार है। बतौर कप्तान विराट कोहली अब तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अब तक 31 शतक लगा चुके हैं। बाबर आजम बतौर अब तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में मात्र 4 ही शतक लगा चुके हैं। इस मामले में बाबर आजम विराट कोहली से काफी पीछे हैं। विराट कोहली को पकड़ने में बाबर आजम को अभी पांच 6 साल आराम से लग सकते हैं। बतौर कप्तान अभी बाबर आजम को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में प्रूफ करना है और अपनी टीम को जीत दिलाने के साथ-साथ रन भी बनाना पड़ेगा। बाबर आजम को विराट बनने में काफी मेहनत करना पड़ेगा। क्योंकि विराट कोहली एकमात्र विराट कोहली है। विराट कोहली जैसा कोई नहीं है।

No.1 Hindi Cricket News website- Crictrack.in- Daily Hindi Cricket, Hindi cricket news Crictrack, cricket news Hindi.

मजबूत टीमों के खिलाफ बाबर आजम का प्रदर्शन अच्छा नहीं है- बाबर आजम वर्ल्ड क्रिकेट की बड़ी टीमों के खिलाफ अभी तक अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। बाबर आजम ने एकदिवसीय क्रिकेट में अब तक 13 शतकीय पारियां खेली है। जिसमें 9 शतक जिंबाब्वे श्रीलंका और वेस्टइंडीज की टीम के विरु’द्ध निकला हुआ है। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है, कि बाबर आजम मजबूत टीम जैसे भारतीय टीम, ऑस्ट्रेलियाई टीम, इंग्लैंड की टीम, साउथ अफ्रीका की टीम न्यूजीलैंड की टीम के खिलाफ लंबी पारियां खेलने में नाकाम रहे हैं। वही बात अगर विराट कोहली क्रिकेट कैरियर की की जाए तो विराट कोहली ज्यादातर शतक विदेशी सरजमीं पर ही लगाए हुए हैं। विराट कोहली लगभग वर्ल्ड क्रिकेट की सभी टीमों के वि’रुद्ध शतकीय पारी खेल चुके हैं। बाबर आजम को विराट कोहली की तुलना में एशिया के बाहर मुकाबले खेलते हुए अपने आप को साबित करना होगा तभी जाकर उनकी तुलना विराट कोहली से की जा सकती है। विराट कोहली का विदेशी सरजमीं पर बतौर बल्लेबाज रिकॉर्ड काफी शानदार रहा है।

मैच खत्म होने के बाद विराट कोहली पूर्व कप्तान धोनी से गले मिलकर किए मस्ती Dhoni kohli meet after the match